प्रेस विज्ञप्ति

04 जुलाई 2020
04-07-2020
04 जुलाई 2020

  • चंडीगढ़, 4 जुलाई- हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा बरोदा विधानसभा उप-चुनाव कार्यक्रम घोषित होने के साथ जेजेपी के साथ विचार-विमर्श के बाद ही पार्टी प्रत्याशी की घोषणा की जाएगी।
  • मुख्यमंत्री आज गोहाना के खानपुर कलां स्थित बीपीएस मेडिकल कालेज अपने निरीक्षण के दौरान पत्रकारों द्वारा पूछे गए एक प्रश्न के उत्तर में अपनी प्रतिक्रिया दे रहे थे।
  • श्री मनोहर लाल ने कहा कि सरकार ने प्रदेश में 1000 पार्क-व्यायामशालाएं स्थापित करने का लक्ष्य रखा है और इसमें से आधी से ज्यादा व्यायामशालाएं बनकर तैयार हो चुकी हैं और इस कड़ी में उन्होंने आज सोनीपत जिले के विभिन्न खंडों में 12 नव निर्मित पार्क-व्यायामशालाओं का उद्घाटन भी किया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश की सभी व्यायामशालाओं में योग शिक्षकों की नियुक्ति भी की जाएंगी।
  • मुख्यमंत्री ने कहा कि वैश्विक महामारी के दौर में इनका व्यायामशालाओं का महत्व और अधिक बढ़ गया है क्योंकि योगासन भी रोग प्रतिरोधक क्षमता विकसित करने में कारगर हैं। उन्होंने कहा कि लोगों को कोरोना वायरस से बचाव के लिए आयुष विभाग की जड़ी-बूटियों का सेवन करना चाहिए। उन्होंने कहा कि इन व्यायामशालाओं में आयुष विभाग के वैलनेस सेंटर भी बनाये जाएंगे ताकि ग्रामीणों को व्यायाम संबंधी सभी सुविधा मिल सके।
  • एक अन्य प्रश्न के उत्तर में उन्होंने कहा कि कोविड-19 के दौरान केन्द्र सरकार द्वारा मुख्य मंत्रियों व मंत्रियों को फील्ड का दौरा करने की दी गई अनुमति के बाद ही वे हरियाणा का दौरा कर रहे हैं तथा आज गोहाना आएं हैं। उन्होंने कहा कि दौरे के दौरान आम जन मानस से सीधे भेंटवार्ता कर उनकी समस्याओं व मांगों इत्यादि की जानकारी भी ली जा रही है।
  • इस मौके पर सांसद रमेश कौशिक, विधायक मोहनलाल बड़ौली व श्रीमती निर्मल चौधरी, हरियाणा पब्लिक इंटरप्राईजिज ब्यूरो के उपाध्यक्ष ललित बतरा, भाजपा के जिलाध्यक्ष डा. धर्मबीर नांदल, मेडिकल एजुकेशन एंड रिसर्च हरियाणा के अतिरिक्त मुख्य सचिव आलोक निगम, बीपीएस मेडिकल कालेज की निदेशक श्रीमती अमनीत पी. कुमार सहित विभिन्न अधिकारीगण व गणमान्य व्यक्ति मौजूद थे।
     
  • चंडीगढ़, 4 जुलाई- प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के प्रयासों से देश और विदेश में लोगों के जीवन में एक नई क्रांति के रूप में उभरकर आए योग को मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल द्वारा प्रदेश के युवाओं तक पहुंचाने के लिए 1000 गांवों में पार्क एवं व्यायामशालाएं खोलने की गई शुरूआत की कड़ी में वे कल चंडीगढ़ से विडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से 110 पार्क एवं व्यायामशालाओं का उदघाटन करेंगे।
  • इस सम्बंध में विस्तृत जानकारी देते हुए एक सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि इस अवसर पर उप मुख्यमंत्री श्री दुष्यंत चौटाला, जिनके पास विकास एवं पंचायत विभाग का प्रभार भी है, भी उपस्थित रहेंगे।
  • उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री ने वर्ष 2019 में अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर पंचकूला से एक साथ 401 पार्क एवं व्यायामशालाओं का उदघाटन किया था और इसी कड़ी में उन्होंने हरियाणा योग परिषद का गठन भी किया है।
  • प्रवक्ता ने बताया कि मुख्यमंत्री ने योग को हर व्यक्ति की जीवन शैली का हिस्सा बनाने के मकसद से प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों में खोली जा रही पार्क एवं व्यायामशालाओं में जिला परिषदों के माध्यम से योग वालंटियर नियुक्त करने की भी स्वीकृति प्रदान की है और इनकी नियुक्ति में उसी गांव या आसपास के गांवों के युवाओं को प्राथमिकता दी जाएगी। इन योग वालंटियर्स की आयु-सीमा 18 से 35 वर्ष के बीच तथा शैक्षणिक योग्यता हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड या सीबीएसई से 10+2 पास होगी। इसके अलावा, इनके पास राष्टï्रीय स्तर पर मान्यता प्राप्त 16 संस्थानों में से किसी एक से योग में लेवल-1 या इसके समकक्ष कोर्स या किसी विश्वविद्यालय से एक वर्ष का डिप्लोमा उतीर्ण होना चाहिए। उन्होंने बताया कि इसके अलावा, इन योग वालंटियर्स के कामकाज की निगरानी के लिए नियमित भर्ती होने तक आउटसोर्सिंग पॉलिसी के तहत हर जिले में एक-एक आयुष कोच भी लगाए जाएंगे। इनके लिए शैक्षणिक योग्यता वही रहेगी, जो खेल एवं युवा मामले विभाग द्वारा योगा कोच के लिए निर्धारित की गई है।
  • प्रवक्ता ने बताया कि प्रधानमंत्री के प्रयासों से योग लोगों की जीवन शैली का हिस्सा बना और इस प्रकार से भारत की इस प्राचीन विधा को पुन: जीवित किया है तथा आज योग ने लोगों के स्वास्थ्य का कायाकल्प कर दिया है और अब तो प्रदेश का युवा भी योग को अपनी दैनिक जीवनचर्या का हिस्सा बना रहे हैं और पार्क एवं व्यायामशालाएं लोगों के योगाभ्यास के लिए एक उपयुक्त स्थल होगा।
  • कोविड-19 के चलते लोगों की मानसिकता में सकारात्मक बदलाव लाने के लिए आयुष मंत्रालय द्वारा इस वर्ष अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस पर ‘‘मेरा जीवन-मेरा योग’’ वीडियो ब्लॉगिंग प्रतियोगिता करवाई गई तथा घर पर रहकर ही अपने परिवार के साथ योग करने की अपील की गई थी, जिसे लोगों का भरपूर समर्थन भी मिला।
  • चंडीगढ़, 4 जुलाई- हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने आज पानीपत जिले के गांव इसराना के एनसी कॉलेज में पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि कोरोना वायरस को लेकर प्रदेश में अब स्थिति सामान्य होती जा रही है, लेकिन फिर भी सभी को सावधानी रखनी बहुत जरूरी है।
  • उन्होंने कहा कि लोगों को सोशल डिस्टैंसिंग के साथ-साथ मास्क पहनने की आदत को अपनी दैनिक दिनचर्या में शामिल करना होगा। साथ ही साथ सैनिटाइजैशन को लगातार अपनाना होगा। उन्होंने कहा कि लोगों को केंद्र और प्रदेश सरकार द्वारा समय-समय जारी दिशानिर्देशों की पालना करना भी सुनिश्चित करना होगा,तभी हम सब मिलकर कोरोना महामारी को दूर भगा सकेंगे।
  • मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल आज भगत फूल सिंह मेडिकल कालेज, खानपुर कलाँ में जाने से पूर्व चंडीगढ़ से वाया हेलीकाप्टर इसराना के एनसी कॉलेज में पहुंचे थे।
  • इस अवसर पर पानीपत के उपायुक्त श्री धर्मेंद्र सिंह, एसपी श्रीमती मनीषा चौधरी, पूर्व मंत्री श्री कृष्ण लाल पंवार, मेयर श्रीमती अवनीत कौर उपस्थित थे।
     
  • चंडीगढ़, 4 जुलाई- हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कोविड अस्पताल बीपीएस मेडिकल कालेज खानपुर कलां (सोनीपत) के चिकित्सकों का हौंसला बढ़ाते हुए उन्हें पदोन्नति का तोहफ़ा दिया है और कहा है कि कोविड-19 के समय में जिस समर्पित भाव से अस्पताल कर्मी मानवता की सेवा रूपी पुण्य कार्य कर रहे हैं, इसके लिए वे बधाई के पात्र हैं।
  • मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल शनिवार को बीपीएस मेडिकल कालेज खानपुर कलां का निरीक्षण कर रहे थे तथा चिकित्सकों की विशेष बैठक के दौरान असिस्टेंट प्रोफेसरों की उठाई गई पदोन्नति की मांग को मुख्यमंत्री ने तुरंत स्वीकारते हुए अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे एक सप्ताह के भीतर उन्हें इस संदर्भ में रिपोर्ट दें।
  • बैठक के दौरान मुख्यमंत्री ने मुक्त कंठ से अस्पताल कर्मियों की प्रशंसा की और साथ ही उन्होंने अस्पताल में कार्यरत चिकित्सकों, स्टाफ नर्स व अन्य पैरा-मेडिकल स्टॉफ की भी जानकारी ली।
  • मुख्यमंत्री ने कहा कि बीपीएस मेडिकल कालेज में बनाए गए कोविड अस्पताल ने बेहतरीन परिणाम दिए हैं, जिसके परिणामस्वरूप अस्पताल में भर्ती होने वाले कोरोना संक्रमित मरीजों में अधिकांश मरीज ठीक होकर अपने घर वापिस जा चुके हैं। हालांकि यह चुनौतीपूर्ण समय है जो केवल सोनीपत के लिए ही नहीं अपितु पूरे प्रदेश व देश तथा दुनिया के लिए है। कोरोना वायरस विश्वव्यापी महामारी है। इससे हर व्यक्ति सावधान हो चुका है।
  • मुख्यमंत्री ने कहा कि चिकित्सक अपनी जिम्मेदारी ईमानदारी से निभा रहे हैं। इनके साथ ही पूरा प्रशासन पूर्ण कर्मठता के साथ कोरोना को हराने में जुटा हुआ है। सामाजिक संगठन तथा स्वयंसेवक के रूप में लोग आगे आकर कोरोना योद्धा की भूमिका अदा कर रहे हैं। अपने मुख्य कार्य को छोडक़र बहुत से लोग कोरोना की आवश्यकता के सामान की उपलब्धता में वृद्धि के लिए जुट गए हैं। उन्होंने मारूति कंपनी का उदाहरण दिया, जिसने कार निर्माण छोडक़र वेंटिलेटर निर्माण की ओर कदम बढ़ाये हैं तथा कम्पनी ने कुछ वेंटिलेटर प्रदेश सरकार को भी भेंट भी किये हैं, जिन्हें विभिन्न अस्पतालों में भेजा गया है। इसी प्रकार कई स्वयंसेवी सहायता समूहों ने मास्क बनाने का अनुकरणीय कार्य किया है।
  • मुख्यमंत्री ने कहा कि हर व्यक्ति को मास्क का प्रयोग करना चाहिए। इससे वैश्विक महामारी के फैलाव पर लगाम लगती है। उन्होंने आशा व्यक्त की कि जल्द ही कोरोना वायरस रूपी महामारी से छुटकारा मिलेगा।
  • चिकित्सकों की बैठक के दौरान परिसर में स्कूल की आवश्यकता की मांग पर मुख्यमंत्री ने गंभीरता से चर्चा की और कहा कि अस्पताल कर्मियों व आसपास के लोगों के बच्चों के लिए यहां बेहतरीन स्कूल स्थापित किया जाएगा। उन्होंने इसकी संभावनाओं के साथ जमीन की उपलब्धता की जानकारी मांगी और साथ ही क्षेत्र में राजकीय माडल संस्कृति वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय की स्थापना पर विचार-विमर्श किया।
  • श्री मनोहर लाल ने कोविड अस्पताल में उपचाराधीन कोविड-19 कोरोना वायरस के संक्रमित मरीज़ों से भी विशेष भेंट की। उन्होंने स्वयं पीपीई किट पहनकर कोविड वार्ड का दौरा किया। इस दौरान उन्होंने कोरोना संक्रमित मरीजों से कुशलक्षेम पूछते हुए अच्छे स्वास्थ्य की शुभकामनाएं भी दी। उन्होंने मरीजों से समस्याओं की जानकारी भी लेनी चाही तो सभी मरीजों ने उपचार को लेकर संतोष व्यक्त किया। मुख्यमंत्री ने मरीजों को आशान्वित किया कि उनके उपचार में कोई कमी नहीं छोड़ी जा रही है।
  • मुख्यमंत्री ने इसके अलावा, सोनीपत जिले के विभिन्न खंडों में 4 करोड़ 38 लाख 23 हजार रुपये की लागत से नव निर्मित 12 पार्क-व्यायामशालाओं का उदघाटन भी किया। इनमें गन्नौर खंड में गांव दुभेटा में 45 लाख 40 हजार रुपये, बजान खुर्द में 34 लाख 13 हजार व गुमड़ में 39 लाख 36 हजार तथा भादी में 40 लाख 50 हजार रुपये की लागत से पार्क-व्यायामशालाएं शामिल हैं। गोहाना खंड के तहत बिलबिलान में 45 लाख 40 हजार व माहरा में 45 लाख 40 हजार तथा कासंडा में 33 लाख 88 हजार रुपये, मुंडलाना खंड के गांव मुंडलाना में 45 लाख 40 व सिवानका में 45 लाख 40 हजार रुपये, सोनीप खंड में सांदल निवादा में 31 लाख 38 हजार तथा खरखौदा खंड के गांव फरमाना में 31 लाख 98 हजार रुपये और राई खंड के जाटी कलां गांव में 37 लाख 82 हजार रुपये की लागत से निर्मित पार्क-व्यायामशालाएं शामिल हैं।
     
  • चंडीगढ़, 4 जुलाई- हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा कि कोविड-19 के बावजूद अब प्रदेश में औद्योगिक एवं वाणिज्यिक गतिविधियां धीरे-धीरे सामान्य हो रही हैं। कोरोना संक्रमण काल में बच्चों को पढ़ाई का नुकसान न हो, इसके लिए ऑनलाइन तकनीक के माध्यम से बच्चों को शिक्षा दी जा रही है।
  • मुख्यमंत्री आज रोहतक में मीडिया कर्मियों से बातचीत कर रहे थे।
  • उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी के दौरान अनाज की खरीद का कार्य भी संतोषजनक रहा। गेंहू की खरीद को शीघ्र पूरा करने हेतू सरकार ने लगभग 1800 से अधिक खरीद केंद्र स्थापित किए थे और इस सीजन के दौरान सरसों,गेहूं व अन्य फसलों की रिकार्ड खरीद की गई और किसानों को पूल अकाउंट के माध्यम से उनके खाते में सीधा भुगतान किया गया।
  • मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना से निपटने के लिए पीजीआईएमएस, रोहतक तथा प्रशासन पूरी तैयारी के साथ निपट रहा है। उन्होंने कहा कि कोरोना के विरुद्ध पूरी दुनिया में लड़ाई लड़ी जा रही है।
  • उन्होंने कहा कि पीजीआई रोहतक तथा प्रशासनिक अधिकारियों के साथ इस मुद्दे पर उनकी विस्तार से चर्चा हुई है। आइसोलेशन बेड, आईसीयू बेड, कोविड केयर सेंटर, बिस्तरों की उपलब्धता व ऑक्सीजन की मात्रा आदि सभी विषयों को लेकर पूरी तैयारियां की गई है।
  • उन्होंने कहा कि आज उन्होंने सोनीपत के खानपुर मेडिकल कॉलेज का भी निरीक्षण किया है और डॉक्टरों से भी कोरोना संक्रमण की स्थिति में अधिक सुधार लाने बारे बातचीत की है। उन्होंने कहा कि मेडिकल कॉलेज में कोरोना के उपचाराधीन एक्टिव मरीजों से भी मिलकर उनके स्वास्थ्य की जानकारी हासिल की है।
  • इस अवसर पर हरियाणा के पूर्व मंत्री मनीष कुमार ग्रोवर, नगर निगम के मेयर मनमोहन गोयल, रोहतक मंडल के आयुक्त डॉ. डी सुरेश, आईजी संदीप खिरवार, उपायुक्त आर एस वर्मा, पुलिस अधीक्षक राहुल शर्मा, सीआईडी व साइबर क्राईम के एसपी पंकज नैन सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी मौजूद थे।
     
  • चंडीगढ़, 4 जुलाई- हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि कोविड-19 के संक्रमण को रोकने हेतू सभी आवश्यक कदम उठाएं जाएं तथा क्वारेंटाइन किये गये व्यक्तियों के स्वास्थ्य पर निगरानी रखने हेतू ज्यादा से ज्यादा पल्स ऑक्सीमीटर उपलब्ध करवाये जाएं ताकि व्यक्ति को उसके शरीर में ऑक्सीजन की मात्रा का पता चल सके। इसके अलावा, मेडिकल कॉलेज व अस्पतालों में अन्य ओपीडी सेवाएं शुरू की जाए।
  • मुख्यमंत्री आज रोहतक सर्किट हाऊस में जिला प्रशासन व पंडित भगवद दयाल शर्मा आर्युविज्ञान संस्थान तथा स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ कोविड-19 से निपटने हेतू किये गये प्रबंधों की बुलाई गई समीक्षा बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे।
  • श्री मनोहर लाल ने पीजीआईएमएस के कुलपति डॉ. ओ.पी. कालड़ा तथा कोविड-19 के राज्य नोडल अधिकारी डॉ. ध्रुव चौधरी से कोविड-19 के इस संदर्भ में पूर्ण जानकारी ली तथा कोविड-19 के टैस्टिंग व रिपोर्ट बारे भी जानकारी भी हासिल की। मुख्यमंत्री ने पूल टैस्टिंग की संभावनाओं का भी पता लगाने को कहा। उन्होंने कहा कि कम संक्रमण वाले क्षेत्रों में पूल टैस्टिंग की जाये और यदि इसके सकारात्मक परिणाम आते हैं तो अन्य लोगों की भी जांच की जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि ज्यादा संक्रमण वाले क्षेत्रों में पूल टैस्टिंग की अपेक्षा व्यक्तिगत जांच की जाए।
  • मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना संक्रमण के रूझानों के अनुसार ही कार्रवाई की जाए। उन्होंने प्रदेश एवं कोरोना संक्रमण की दर व कोरोना से होने वाली मृत्यु दर के बारे में भी विस्तृत जानकारी ली। उन्होंने संक्रमित व्यक्तियों में एंटीबॉडी विकसित होने के बारे में जानकारी हासिल की तथा एंटीबॉडी विकसित होने के बाद शरीर में कोरोना संक्रमण से प्रतिरोध करने की क्षमता बारे भी जानकारी ली।
  • बैठक में रोहतक के उपायुक्त श्री आर एस वर्मा ने कहा कि जिला में कोविड-19 के सामुदायिक संक्रमण को रोकने हेतू सभी आवश्यक प्रबंध किये गये है। कोरोना संक्रमित व्यक्तियों के इलाज के लिए ऑक्सीजन युक्त 750 बेड के प्रबंध किये गये है तथा तीन कोविड केयर सेंटर भी स्थापित किये है। जिला में मनरेगा के तहत भी मनरेगा मज़दूरों को रोजगार दिया जा रहा है। जिला में स्थित लगभग अढ़ाई हजार ओद्योगिक इकाईयों में से ज्यादातर में कार्य शुरू हो चुका है तथा इन इकाईयों में लगभग 33 हजार श्रमिकों को रोजगार प्राप्त हुआ है।
  • कुलपति डॉ. ओपी कालड़ा ने कहा कि प्रदेश में कोविड-19 के छह हजार प्रतिदिन टैस्ट की क्षमता है। पीजीआईएमएस में लगभग 2000 हजार टैस्ट प्रतिदिन क्षमता है। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विज्ञान विश्वविद्यालय में प्लाज्मा थैरेपी से भी इलाज शुरू किया गया है। कोविड-19 के संक्रमण से ठीक हुये दो व्यक्तियों से प्लाज्मा लिया गया है तथा एक संक्रमित व्यक्ति को प्लाज्मा दिया जा चुका है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में कोविड-19 के 4057 एक्टिव केस हैं तथा कोविड-19 संक्रमण से ठीक होने की दर में वृद्धि हो रही है। कोविड-19 से लगभग 80 प्रतिशत संक्रमित व्यक्तियों की इलाज के दौरान 8-9 दिन में नेगेटिव रिपोर्ट प्राप्त हो रही है। केंद्र सरकार से 50 वेंटिलेटर मिले हैं तथा अन्य 150 वेंटिलेटर भी प्राप्त होने पर स्वास्थ्य सुविधाओं में वृद्धि होगी। लगभग 310 व्यक्तियों को घरों में कंवारेंटाइन किया गया है।
  • उन्होंने मुख्यमंत्री को अवगत करवाया कि पीजीआईएमएस द्वारा डॉ. ध्रुव चौधरी की देखरेख में एक ऐप भी विकसित किया गया है, जिससे कोविड संक्रमित व्यक्तियों का पता लगाकर शीघ्र अस्पताल में भर्ती करने में मदद मिलेगी। इस ऐप को शीघ्र ही शुरू किया जायेगा। इस ऐप में येलो, रैड व ग्रीन तीन रंग है किसी भी व्यक्ति द्वारा लक्षण बताने पर कोविड-19 के संक्रमण का इस ऐप के माध्यम से पता लग सकेंगा।
  • कोविड-19 के प्रदेश नोडल अधिकारी डॉ. ध्रुव चौधरी ने कहा कि पीजीआई में 840 व्यक्ति उपचाराधीन है, जिनमें से 18 मरीजों को आईसीयू में रखा गया है। कोविड-19 से होने वाली मृत्यु में 80 प्रतिशत कमी दर्ज की गई है। ट्रॉमा सेंटर में आक्सीजन की सुविधा से युक्त 180 बिस्तर तथा आईसीयू में 36 बेड उपलब्ध है। पीजीआई में प्रतिदिन लगभग 180 तथा सिविल अस्पताल में प्रतिदिन लगभग एक सौ कोविड टैस्ट किये जा रहे है। कोविड-19 के टैस्ट की 24 घंटे में रिपोर्ट उपलब्ध करवाई जा रही है।
  • इस अवसर पर रोहतक के मंडलायुक्त डॉ. डी. सुरेश, पुलिस महानिरीक्षक संदीप खिरवार, नगर निगम के आयुक्त प्रदीप गोदारा, पुलिस अधीक्षक राहुल शर्मा, अतिरिक्त उपायुक्त महेंद्रपाल के अलावा अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित थे।