प्रेस विज्ञप्ति

12 अक्टूबर 2021
12-10-2021
12 अक्टूबर 2021

चंडीगढ़, 12 अक्टूबर- हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा है कि वेस्ट वाटर को ट्रीट करने के बाद उसका अधिक से अधिक उपयोग सुनिश्चित करें । मुख्यमंत्री आज यहां वेस्ट वाटर के पुनः इस्तेमाल संबंधी समीक्षा बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। मुख्यमंत्री ने इन दौरान तकनीकी पहलुओं के बारे में भी जाना।

मुख्यमंत्री ने कहा कि भविष्य में जल के संकट को देखते हुए जहां-जहां पर शोधित किए गए जल का उपयोग किया जा सकता है, वहां पर अधिक से अधिक मात्रा में इसका उपयोग करने के लिए योजना बनाकर कार्य करें। उन्होंने कहा कि संबंधित विभागों के अधिकारियों की इस विषय पर स्पेशल बैठक बुलाकर काम को सिरे चढ़ाया जाए।

एक अथॉरिटी करे पूरी देखरेख

मुख्यमंत्री ने कहा कि शोधित जल का अधिक से अधिक इस्तेमाल सुनिश्चित करने के लिए एक अथॉरिटी तय की जानी चाहिए ताकि योजना को सही तरीके से क्रियान्वित किया जा सके। यह अथॉरिटी ही सभी संबंधित विभागों स्थानीय निकायों, एच एसआईआईडीसी एवं अन्य प्राधिकरणों से तालमेल बनाकर योजना को आगे बढ़ाए।

पावर प्लांटों के लिए हो आपूर्ति

मुख्यमंत्री ने कहा कि पावर प्लांट में इस्तेमाल किए जाने के लिए शोधित जल की आपूर्ति की जानी चाहिए। इसके लिए जो भी आवश्यक तकनीक या इन्फ्रास्ट्रक्चर तैयार करना हो उसके लिए जरूरी कदम उठाए जाने चाहिए। इससे भविष्य के लिए पीने योग्य पानी की अधिक से अधिक बचत हो सकेगी।

भवन निर्माण और इंडस्ट्री में भी हो शोधित जल का इस्तेमाल

मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा कि जहां-जहां औद्योगिक क्लस्टर हैं, वहां पर उद्योगों में इस्तेमाल के लिए शोधित जल की आपूर्ति की जानी चाहिए। इसके अलावा भवन निर्माण साइटों पर भी शोधित जल का इस्तेमाल किए जाने की आवश्यकता है।

इस मौके पर मुख्यमंत्री के मुख्य प्रधान सचिव श्री डीएस ढेसी, ऊर्जा विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री पीके दास, सिंचाई विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री देवेंद्र सिंह एवं संबंधित विभागों के वरिष्ठ अधिकारी मौजूद रहे।