प्रेस विज्ञप्ति

29 जुलाई 2020
29-07-2020
29 जुलाई 2020

  • चंडीगढ़, 29 जुलाई - हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कहा कि केन्द्र सरकार द्वारा घोषित 20 लाख करोड़ रुपये के आर्थिक पैकेज में से हम 10 फीसदी प्राप्त करेंगे। इसके लिए उन्होंने संबंधित विभागों को योजनाएं बनाने के निर्देश दिए हैं।
  • मुख्यमंत्री आज राज्य में कोविड-19 की स्थिति पर गठित विभिन्न विभागों के अधिकारियों के आपदा प्रबंधन गु्रप की बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे।
  • मुख्यमंत्री ने कहा कि आत्मनिर्भर भारत में देश में कृषि इन्फ्रास्ट्रक्चर विकसित करने के लिए एक लाख करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है। जिसमें हरियाणा के लिए 3900 करोड़ रुपये निर्धारित किए गए हैं। इस फण्ड का उपयोग करने के लिए शीघ्रातिशीघ्र योजनाएं बनाकर भेजनी होंगी। इसी प्रकार, अन्य विभागों को भी छोटे-छोटे गु्रप बनाकर योजनाएं प्राथमिकता आधार पर तैयार करनी होंगी। तभी हम आत्मनिर्भर भारत का लाभ ले सकते हैं।
  • बैठक में मुख्य सचिव श्रीमती केशनी आनंद अरोड़ा ने मुख्यमंत्री को आश्वासन दिया कि इसी के अनुरूप योजनाएं तैयार की जाएंगी। इस कार्य को सभी अधिकारी प्राथमिकता देंगे।
  • बैठक में मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव श्री राजेश खुल्लर, गृह विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री विजय वर्धन, मुख्यमंत्री के अतिरिक्त प्रधान सचिव श्री वी.उमाशंकर व मुख्यमंत्री की उप-प्रधान सचिव श्रीमती आशिमा बराड़, आबकारी एवं कराधान विभाग के प्रधान सचिव श्री अनुराग रस्तोगी, उद्योग एवं वाणिज्य विभाग के प्रधान सचिव श्री ए.के.सिंह, शहरी स्थानीय निकाय विभाग के महानिदेशक श्री अमित अग्रवाल, पुलिस महानिदेशक मनोज यादव के अलावा अन्य अधिकारी भी उपस्थित थे।
     
  • चंडीगढ़, 29 जुलाई - हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने अधिकारियों को प्रदेश में अगले 10 दिन में नौ नई कोरोना टेस्टिंग लैब खोलने तथा अनलॉक-3 में लोगों को मास्क पहनने के लिए प्रेरित करने का विशेष अभियान चलाने के आदेश दिए हैं।
  • इसके अलावा, यातायात चौराहों, शहरी स्थानीय निकाय विभाग के वाहनों तथा सूचना, जन सम्पर्क एवं भाषा विभाग के प्रचार वाहनों से भी मास्क पहनने या गमछा से मुंह ढकने के लिए प्रचार-प्रसार करें।
  • मुख्यमंत्री आज राज्य में कोविड-19 की स्थिति पर गठित विभिन्न विभागों के अधिकारियों के आपदा प्रबंधन गु्रप की बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। मुख्यमंत्री ने पुलिस विभाग को भी निर्देश दिए कि मास्क/गमछा न पहनने वाले व्यक्तियों पर सख्ती बरतें तथा मौके पर ही चलान काटते समय उल्लघंन करने वाले व्यक्ति को कम से कम पांच-पांच मास्क वितरित करें। यदि कोई व्यक्ति जानबूझ कर मास्क नहीं पहनता है तो उसे यह संदेश भी दिया जाए कि भविष्य में किसी भी समय चालान की राशि 500 रुपये से बढ़ाकर 1000 रुपये कर दी जाएगी।
  • बैठक में इस बात की जानकारी दी गई कि कुछ राज्यों जैसे कि कर्नाटक, असम, मेघालय, उत्तराखंड, जम्मू एवं कश्मीर व महाराष्टï्र आदि ने अपने स्तर पर कहीं एक सप्ताह, कहीं एक दिन, कहीं सप्ताहांत के अनुसार लॉकडाउन पुन: लगाया है। हरियाणा में गुरुग्राम, फरीदाबाद, सोनीपत व रेवाड़ी जिलों को छोडक़र, अन्य जिलों में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की स्थिति नियंत्रण में है। बैठक में इस बात की जानकारी दी गई कि मुख्यमंत्री द्वारा पुन: लॉकडाउन न लगाने के निर्णय की खबर को कई अंग्रेजी व हिन्दी के राष्टï्रीय समाचार पत्रों ने पहले पृष्ठï पर जगह दी है।
  • स्वास्थ्य विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री राजीव अरोड़ा ने मुख्यमंत्री को अवगत करवाया कि राज्य में औसतन कोरोना पॉजिटिव दर 5.82 प्रतिशत है जबकि पूरे देश में यह 8.56 प्रतिशत है। हरियाणा का रिकवरी रेट 78.35 प्रतिशत है जबकि देश में यह 64.23 प्रतिशत है। इसी प्रकार, मृत्यु दर 1.23 प्रतिशत तथा देश में यह 2.26 प्रतिशत है। कोरोना संभावित मामले 32876 हैं जिनमें से 25758 मरीज ठीक हुए हैं और सक्रिय मरीजों की संख्या 6712 है। उन्होंने इस बात की जानकारी भी दी कि तीन लाख कोरोना एंटीजेन किट्स मंगवाने की निविदा जारी की जा चुकी है जिसमें से दो लाख किट्स प्राप्त हो चुके हैं।
  • मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि प्रत्येक जिले में कम से कम एक कोरोना टेस्टिंग लैब खोली जानी चाहिए। जहां पर ऐंटीजेन टेस्टिंग की बजाय आरटीपीसीआर प्रणाली से टेस्टिंग की सुविधा हो। इस पर चिकित्सा शिक्षा अनुसंधान विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री आलोक निगम ने बताया कि वर्तमान में कोरोना टेस्टिंग लैब्स की संख्या प्रदेश में 16 है जिनमें 11 सरकारी तथा छ: लैब प्राइवेट अस्पतालों में हैं। मुख्यमंत्री ने आदेश दिए कि चार जिलों के सरकारी अस्पतालों और पांच मेडिकल कॉलेजों में एक-एक नई लैब अगले 10 दिन में खोली जाए। वर्तमान में, प्रतिदिन 9500 टेस्ट किए जा रहे हैं और नई लैब्स खुलते ही ये संख्या 20,000 तक हो जाएगी। इसीप्रकार, ओइसोलेटिड बैड्स की संख्या 10,630 है, आईसीयू बैड्स की संख्या 12,846 तथा कुल बैड्स 52000 हैं तथा 426 क्वारंटाइन केन्द्र हैं।
  • मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि जिन मरीजों को कोरोना के बाद या पॉजिटिव के बाद ठीक होने उपरांत पुन: दोबारा टेस्टिंग के लिए आना होता है तो उनको घर से लाने ले जाने के लिए मुफ्त एम्बुलेंस की सुविधा प्रदान की जाए। इसके अलावा, पंचकूला, रोहतक, गुरूग्राम में प्लाजमा बैंक भी खोले जा रहे हैं। लोगों को प्लाजमा डोनेट करने के लिए भी प्रेरित किया जा रहा है। इसी प्रकार, आयुष विभाग द्वारा रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए किट्स भी बांटी जा रही हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि अधिक से अधिक रोग प्रतिरोधक आयुष किट्स बांटी जानी चाहिए।
  • बैठक में जानकारी दी गई कि अंतरराज्यीय परिवहन सेवाओं के अंतर्गत वर्तमान में हरियाणा परिवहन की राजस्थान व उत्तरप्रदेश में बसें चलाई जा रही हैं। हरियाणा परिवहन की बसें 35 यात्रियों की संख्या के साथ चलाई जा रही हैं। यात्रियों की संख्या प्रतिदिन 1.15 लाख से अधिक हो चुकी है।
  • मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए कि रक्षाबंधन व ईद के त्यौहारों को देखते हुए बसों में यात्रियों की संख्या पहले की तरह 35 ही रहनी चाहिए। मुख्यमंत्री ने लोगों से अपील की कि लॉकडाउन के दौरान पहले जिस प्रकार सादगी से त्यौहार मनाए हैं उसी प्रकार रक्षाबंधन व अन्य त्यौहार भी मनाएं। भाई-बहन अपना संदेश मोबाइल व ई-राखी के माध्यम से भेजें।
  • मुख्यमंत्री ने कहा कि बैंक्वेट हॉल आदि में शादी समारोह में केन्द्रीय गृह मंत्रालय द्वारा जारी आदेशानुसार एक साथ 50 से अधिक की संख्या नहीं होनी चाहिए। इस पर पुलिस विभाग व शहरी स्थानीय निकाय विभाग विशेष नजर रखें। मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए कि समारोह के लिए लॉकडॉउन व सोशल डिस्टेसिंग के नियमों का उल्लघंन करने वाले बैंक्वेट हॉल के मालिकों के विरूद्घ सख्त कार्रवाई की जाए। पहली बार उल्लघंन करने पर एक लाख रुपये जुर्माना, दूसरी बार तीन लाख रुपये तथा दो से अधिक बार करने पर पांच लाख रुपये, अगर फिर भी उल्लघंन करता है तो उसका लाइसैंस रद्द कर दिया जाए।
  • इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने कोविड-19 के दौरान श्रमिकों को उनके गृह राज्यों में भेजने के हरियाणा सरकार द्वारा किए गए प्रबंधों तथा श्रमिकों के अनुभवों पर अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक सीआईडी अनिल राव व पुलिस अधीक्षक पंकज नैन द्वारा संकलित पुस्तक ‘संवेदना’ का विमोचन भी किया।
  • बैठक में मुख्य सचिव श्रीमती केशनी आनंद अरोड़ा, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव श्री राजेश खुल्लर, गृह विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री विजय वर्धन, मुख्यमंत्री के अतिरिक्त प्रधान सचिव श्री वी.उमाशंकर व मुख्यमंत्री की उप-प्रधान सचिव श्रीमती आशिमा बराड़, आबकारी एवं कराधान विभाग के प्रधान सचिव श्री अनुराग रस्तोगी, उद्योग एवं वाणिज्य विभाग के प्रधान सचिव श्री ए.के.सिंह, शहरी स्थानीय निकाय विभाग के महानिदेशक श्री अमित अग्रवाल, पुलिस महानिदेशक मनोज यादव के अलावा अन्य अधिकारी भी उपस्थित थे।
     
  • चंडीगढ़, 29 जुलाई - हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल की अध्यक्षता में कल रोहनात फ्रीडम ट्रस्ट के गवर्निंग ट्रस्टीज़ की पहली बैठक आयोजित की जाएगी, जिसमें रोहनात फ्रीडम ट्रस्ट द्वारा भिवानी जिला के रोहनात गांव में किए जा रहे विकास कार्यों की समीक्षा करने के साथ-साथ प्रस्तावित कार्यों पर चर्चा की जाएगी।
  • एक सरकारी प्रवक्ता ने आज यहां यह जानकारी देते हुए बताया कि मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल विडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से बैठक की अध्यक्षता करेंगे। ज्ञात रहे वर्ष 1947 से लेकर वर्ष 2018 तक रोहनात गांव में तिरंगा नहीं लहराया गया था। मुख्यमंत्री ने 23 मार्च, 2018 को हरियाणा वीर एवं शहीदी दिवस के अवसर पर रोहनात गांव में पहली बार राष्टï्रीय ध्वजारोहण करके रोहनात फ्रीडम ट्रस्ट बनाने की घोषणा की थी।
  • उन्होंने बताया कि रोहनात गांव के वीर सपूतों द्वारा भारत के प्रथम स्वतंत्रता संग्राम में दिए गए अहम योगदान एवं अनुपम बलिदान के सम्मान में यह ट्रस्ट गठित किया गया है ताकि रोहनात गांव का समुचित विकास सुनिश्चित किया जा सके। यह ट्रस्ट गांव में शिक्षा, रोजगार, कौशल प्रशिक्षण, परिसम्पत्ति के निर्माण, स्वास्थ्य सुविधाएं, युवा विकास, महिलाओं एवं बुजुर्गों के कल्याणार्थ विभिन्न गतिविधियां संचालित कर रोहनातवासियों को राजनैतिक, सामाजिक और आर्थिक आयामों में सम्पूर्ण स्वतंत्रता प्रदान करने के लिए प्रयासरत है।
  • यहां यह उल्लेखनीय होगा कि प्रथम स्वतंत्रता संग्राम में रोहनात गांव के वीर सपूतों द्वारा दिए गए अहम योगदान के सम्मान में मुख्यमंत्री द्वारा दिनांक 23 मार्च, 2018 को गई घोषणा के तहत 21 सितम्बर, 2018 को रोहनात फ्रीडम ट्रस्ट की स्थापना की गई थी।
  • रोहनात गांव के विकास के लिए मुख्यमंत्री द्वारा कुल 12 घोषणाएं की गई हैं जिनमें से आठ पर कार्य पूरा हो चुका है और शेष चार घोषणाओं पर कार्य प्रगति पर है। इन विकास कार्यों पर अब तक लगभग 296 लाख रुपये खर्च किये जा चुके हैं। इसके अतिरिक्त, 10 अन्य विकास कार्य हरियाणा ग्रामीण विकास कोष के तहत करवाए गए हैं जिन पर लगभग 136.77 लाख रुपये की राशि खर्च हुई है।
  • इसके अतिरिक्त, गांव के प्रस्तावित कार्यों में गांव में स्थापित शहीद स्मारक में पुस्तकालय की स्थापना, ढाब जोहड़, बरगद के पेड़ और कुएं का सौंदर्यकरण, गांव के स्कूल एवं स्ट्रीट लाइट के लिए सौर परियोजना तथा गांव रोहनात से बोहल तक सम्पर्क सडक़ को पक्का करना शामिल है।
     
  • चंडीगढ़, 29 जुलाई - हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने जिला जींद के गांव बिरोली में उप-स्वास्थ्य केन्द्र खोलने और उसके संचालन के लिए बहुउदेशीय स्वास्थ्य कर्मी (एमपीएचडब्ल्यू) के दो नियमित पद सृजित करने की स्वीकृति प्रदान की है।
  • इनमें एक पद एमपीएचडब्ल्यू (पुरुष) और एक पद एमपीएचडब्ल्यू (महिला) का है। इन पदों के सृजन पर 106,432 रुपये प्रतिमाह के वित्तीय खर्च आएगा।
  • एक सरकारी प्रवक्ता ने यह जानकारी देते हुए बताया कि इसके अतिरिक्त, मुख्यमंत्री ने इस उप-स्वास्थ्य केन्द्र के लिए सामान्य प्रशासन विभाग की आउटसोर्सिंग नीति भाग-1 के तहत चतुर्थ श्रेणी के एक पद को भरने की भी स्वीकृति प्रदान की है।
  • उन्होंने बताया कि गांव बिरोली में उप-स्वास्थ्य केन्द्र के सुचारू संचालन के लिए ग्राम पंचायत ने लोक निर्माण (भवन एवं सडक़ें) विभाग के माध्यम से भवन का निर्माण करवा लिया है। उप-स्वास्थ्य केन्द्र खोलने के लिए यह भवन पूरी तरह तैयार है और ग्राम पंचायत ने एक प्रस्ताव पारित करके उप-स्वास्थ्य केन्द्र के संचालन के लिए स्वास्थ्य विभाग को यह भवन सौंपने के लिए एक आग्रह पत्र भी दे दिया है।
     
  • चंडीगढ़, 29 जुलाई - हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने हरियाणा की पावन धरती पर राफेल लड़ाकू विमानों के पहले जत्थे का स्वागत किया है।
  • आज यहां एक ट्वीट में श्री मनोहर लाल ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत अपनी सेनाओं के आधुनिकीकरण व अत्याधुनिक हथियारों द्वारा उन्हें और अधिक सशक्त बनाने के लिए प्रतिबद्ध है तथा राफेल की खरीद इस बात का प्रमाण है।