उपलब्धिया

विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी
विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी

  • प्रत्येक वर्ष 11 मई को राज्य के औद्योगिक प्रषिक्षण संस्थान (ITI) बहु तकनीकी संस्थान (Polytechnics) व इंजीनियरिंग संस्थानों तथा जनसाधारण में प्रौद्योगिकी के महत्व बारे जागरूकता लाने हेतु राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी दिवस मनाने की एक योजना शुरू की है। राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी दिवस-2019 के आयोजन के लिए 19 तकनीकी संस्थानों को 3 लाख 20 हजार रुपये की राशि जारी की गई।
  • हरियाणा में राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र हेतु एक साइंस सिटी की स्थापना के लिए गुरूग्राम/फरीदाबाद में उपयुक्त भूमि की तलाश की जा रही है। यह साइंस सिटी भारत सरकार की तकनीकी एवं वित्तीय सहायता से लगभग 191 करोड़ रुपये की लागत से तैयार की जाएगी।
  • संस्कृति मंत्रालय, भारत सरकार ने राज्य सरकार के सहयोग से अंबाला में 5 एकड़ जमीन पर एक साईंस सैंटर स्थापित किये जान के प्रस्ताव को अनुमोदित कर दिया है। इस केन्द्र की स्थापना राष्ट्रीय विज्ञान सग्रंहालय परिषद, कोलकाता द्वारा 30 करोड़ रुपये से भी अधिक की लागत से की जाएगी, जिसमें से 6.55 करोड़ रुपये भारत सरकार द्वारा वहन किए जाएंगे तथा शेष राशि राज्य सरकार द्वारा वहन की जाएगी।
  • प्रत्येक जिले के 10 राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालयों में विज्ञान क्लबों की
  • स्थापना की जा रही है। ये विज्ञान क्लब युवा छात्रों के बीच वैज्ञानिक सोच एवं
  • जागरूकता पैदा करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे।
  • मेधावी छात्रों के लिए दो Exposure Visits आयोजित की गयी। 16 जनवरी, 2020 को 60 छात्रों/शिक्षकों को दिल्ली के राष्ट्रीय विज्ञान केन्द्र ले जाया गया तथा 28-30 जनवरी, 2020 के दौरान 48 छात्रों/शिक्षकों को पुष्पा गुजराल साइंस सिटी, कपूरथला ले जाया गया ।